Site icon DPN

Terrorist Attack Decode : भारत को दहलाने की पाकिस्तान की पूरी साजिश ‘डिकोड’ !

Terrorist Attack Decode : पाकिस्तान (Pakistan) समर्थित आतंकी संगठन 14-15 अगस्त से पहले भारत में बड़े हमले की तैयारी में हैं. तीन बड़ी जगहों पर हमले की साजिश रची जा रही. दहशतगर्दों के टारगेट पर इस बार जम्मू है.

Terrorist Attack Decode : पाकिस्तान (Pakistan) समर्थित आतंकी संगठन 14-15 अगस्त से पहले भारत में बड़े हमले की तैयारी में हैं. तीन बड़ी जगहों पर हमले की साजिश रची जा रही. दहशतगर्दों के टारगेट पर इस बार जम्मू है. जम्मू कश्मीर के कठुआ में हुए आतंकी हमले में 5 जवान शहीद हो गए. कठुआ में हुए हमले के तार पाकिस्तान (Pakistan) से जुड़ रहे हैं.

Terrorist Attack Decode : भारत को दहलाने की पाकिस्तान की पूरी साजिश ‘डिकोड’ !

अब सामने आया है कि कठुआ हमला भारत के खिलाफ रची जा रही पाकिस्तान (Pakistan) की बड़ी साजिश का हिस्सा है. जम्मू कश्मीर में आतंकियों पर एक्शन से बौखलाए पाकिस्तान (Pakistan) ने अब भारत को दहलाने की पूरी साजिश रच ली है. एबीपी न्यूज ने इस पर बड़ा खुलासा किया है.

पाकिस्तान (Pakistan) में मौजूद सूत्रों के मुताबिक, पड़ोसी देशों के आतंकी संगठन 14-15 अगस्त से पहले भारत में बड़े हमले की तैयारी में हैं. तीन बड़ी जगहों पर हमले की साजिश रची जा रही. दहशतगर्दों के टारगेट पर इस बार जम्मू है. वो जम्मू जहां आतंकवाद पर पूरी तरह नकेल कसी जा चुकी थी. लेकिन अब यहां पाकिस्तान (Pakistan)ी आतंकी संगठन खौफ की नई फसल उगाना चाहते हैं, और इसलिए पहले रियासी फिर डोडा राजौरी से लेकर अब कठुआ में हमला किया गया है

साजिश के तहत कराई जेल ब्रेक

सूत्रों की मानें तो पाकिस्तान (Pakistan) में बैठे आतंक के सरगना टेरर रूट को श्रीनगर से अब जम्मू शिफ्ट कर रहे हैं। इसकी वजह मानी जा रही है कि जिस तरह घाटी में ऑपरेशन ऑलआउट चला है, आतंकियों का सफाया हुआ है। इससे पाकिस्तान (Pakistan) बौखला गया है। पाकिस्तान (Pakistan) में मौजूद सूत्रों के मुताबिक, भारत में बड़े आतंकी हमले के लिए पाकिस्तान (Pakistan) ने एक साजिश के तहत पाक अधिकृत कश्मीर की रावलकोट जेल ब्रेक कराई है। यहाँ से 20 आतंकी फरार हुए थे, जिसमें से 4-6 आतंकियों ने भारत में घुसपैठ की है।

बताया जा रहा है कि रावलकोट जेल ब्रेक में गाजी शहजाद अहमद भी फरार हुआ था। गाजी भारत की जेल में भी बंद रहा है। पाकिस्तान (Pakistan) में मौजूद सूत्रों के मुताबिक, इसके भी भारत में घुसने की आशंका है। इन सभी आतंकियों ने पुंछ के जंगलों से होकर घुसपैठ की है। इस साजिश का खुलासा “Terrorist Attack Decode” द्वारा किया गया है। “Terrorist Attack Decode” रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान (Pakistan) भारत में नए आतंकवादियों को घुसाने की कोशिश कर रहा है।

“Terrorist Attack Decode” रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि पाकिस्तान (Pakistan) की यह साजिश भारत में शांति और सुरक्षा को खतरे में डाल सकती है। इसके चलते सुरक्षा एजेंसियां पूरी तरह सतर्क हैं। “Terrorist Attack Decode” की रिपोर्ट के अनुसार, भारत सरकार ने सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट पर रखा है और आतंकियों के किसी भी संभावित हमले को नाकाम करने की तैयारी कर ली है।

“Terrorist Attack Decode” के मुताबिक, इन आतंकियों का उद्देश्य भारत में बड़े पैमाने पर हमले करना है। भारत सरकार और सुरक्षा एजेंसियां इस चुनौती का मुकाबला करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं।

कुल 40 आतंकियों के घुसपैठ की आशंका

सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान (Pakistan) लॉन्चिंग पैड्स पर मौजूद करीब 40 आतंकियों ने हाल ही में घुसपैठ की है। ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर ये आतंकी भारत में दाखिल कैसे हुए? दरअसल, इंटरनेशनल बॉर्डर पर पाकिस्तान (Pakistan) से घुसपैठ के करीब 1 दर्जन ऐसे नदी नाले हैं, जिनका इस्तेमाल आतंकी पारंपरिक रूप से घुसपैठ के लिए करते हैं।

हाल के दिनों की बात करें तो जम्मू के सांबा और कठुआ जिले में बब्बर नाला, पूज नाला, बसंतर नाला, ये वो मुख्य नाले हैं, जिनका उपयोग पाकिस्तान (Pakistan) समर्थित आतंकी जम्मू में पहुंचने के लिए कर रहे हैं। घुसपैठ करने वाले आतंकियों के लिए ड्रोन से हथियार भी गिराए गए। इसके साथ ही पाकिस्तान (Pakistan)ी आर्मी ड्रोन से भारतीय सेना की गतिविधियों की रेकी करा रही है। पाकिस्तान (Pakistan) भले ही चाहे जितनी साजिश रच ले, लेकिन आतंकियों की घुसपैठ वाले रूट चार्ट का कोड “Terrorist Attack Decode” के द्वारा डिकोड हो चुका है और अब एक-एक कर इन आतंकियों के खात्मे की बारी है।

“Terrorist Attack Decode” की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान (Pakistan) इन नदी नालों का इस्तेमाल करके भारत में आतंकियों को भेजने की कोशिश कर रहा है। “Terrorist Attack Decode” रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि ड्रोन का इस्तेमाल हथियार गिराने और भारतीय सेना की गतिविधियों की निगरानी के लिए किया जा रहा है।

“Terrorist Attack Decode” के मुताबिक, भारतीय सुरक्षा एजेंसियां अब पूरी तरह से सतर्क हैं और उन्होंने आतंकियों के घुसपैठ वाले रूट का नक्शा तैयार कर लिया है। “Terrorist Attack Decode” की रिपोर्ट ने यह स्पष्ट कर दिया है कि आतंकियों के खात्मे का समय अब आ गया है।

इससे भी पढ़े :-

Exit mobile version
Skip to toolbar