Site icon DPN

RBI Income: पिछले साल 2 लाख करोड़ से अधिक कमाई, रिजर्व बैंक पैसे कैसे बनाता है? जानिए इसकी प्रक्रिया।

RBI Income: भारतीय रिजर्व बैंक हर साल लाखों करोड़ रुपये में कमाई करता है. आइए जानते हैं कि रिजर्व बैंक की इस भारी-भरकम कमाई के स्रोत क्या हैं..

RBI Income

RBI Income: भारतीय रिजर्व बैंक सरकारी खजाने में प्रतिवर्ष मोटा योगदान प्रदान करता है। यह योगदान रिजर्व बैंक की अधिकारिक साइटिंग कोउन्सिल के अनुसार जमा धन से और अन्य वित्तीय संरचनाओं के माध्यम से होता है। इससे सरकार को लाभांश मिलता है, जो कि बजट के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है।

RBI Income :रिजर्व बैंक का यह कार्य भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि इससे सरकार की विभिन्न क्षेत्रों में परियोजनाओं को संचालित करने के लिए आवश्यक आर्थिक संकल्पना मिलती है। रिजर्व बैंक अपने आय का महत्वपूर्ण हिस्सा सरकार को सौंपता है, जिससे देश के विकास में सकारात्मक योगदान किया जा सकता है।

इससे भी पढ़े :- एमएस धोनी का आखिरी IPL मैच… भावुक विदाई, चेन्नई की हार से माही का क्रिकेट सफर समाप्त?

RBI Income : डिविडेंड का बन जाएगा रिकॉर्ड

RBI Income : हाल ही में यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने रिजर्व बैंक से सरकार को मिलने वाले डिविडेंड पर अनुमान जाहिर किया था। इस महीने की शुरुआत में आए अनुमान में कहा गया कि रिजर्व बैंक इस साल सरकारी खजाने में डिविडेंड से 1 लाख करोड़ रुपये का योगदान दे सकता है। इससे पहले रिजर्व बैंक ने पिछले वित्त वर्ष में सरकारी खजाने को 87 हजार 400 करोड़ रुपये ट्रांसफर किया था। यह डिविडेंड सरकार के लिए एक महत्वपूर्ण स्रोत होता है, जिससे सरकार विभिन्न विकास कार्यों को संचालित कर सकती है और आर्थिक विकास में सहायता प्रदान कर सकती है।

RBI Income : बजट में अकेले इतना योगदान

रिजर्व बैंक के द्वारा लाभांश के रूप में दिए जाने वाले पैसों का यह आंकड़ा कितना बड़ा है, उसका अंदाजा बजट के साइज से तुलना करके बेहतर लग पाता है. इस साल फरवरी में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने जो बजट पेश किया था, उसका साइज 47.66 लाख करोड़ रुपये था, जबकि पिछले साल 45 लाख करोड़ रुपये का बजट आया था. यानी इस साल रिजर्व बैंक का अनुमानित लाभांश कुल बजट के 2 फीसदी से भी ज्यादा हो सकता है. मतलब अकेले रिजर्व बैंक सरकार के पूरे साल के टोटल खर्च के 2 फीसदी से ज्यादा हिस्से की भरपाई कर दे रहा है.

RBI Income

RBI Income : 2023 में आरबीआई की कमाई

RBI Income : रिजर्व बैंक की सालाना रिपोर्ट बताती है- साल 2023 में भारत के बैंकिंग रेगुलेटर को कुल 2.3 लाख करोड़ रुपये की कमाई हुई थी. यह आंकड़ा पिछले साल आए बजट के 5 फीसदी से भी ज्यादा है. मतलब भारत सरकार ने पिछले साल फरवरी में आए बजट में पूरे साल के लिए जितने खर्च का हिसाब तैयार किया था, उसके 5.11 फीसदी के बराबर कमाई रिजर्व बैंक को 2023 में हो गई थी.

RBI Income : भारतीय रिजर्व बैंक के काम

अब सवाल उठता है कि रिजर्व बैंक को इतनी बेहिसाब कमाई हो कैसे रही है? इसे रिजर्व बैंक के काम से समझ सकते हैं. रिजर्व बैंक भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के दायरे में आता है. उसका काम भारत के बैंकिंग सिस्टम को रेगुलेट करना है. उसके अलावा करेंसी यानी भारतीय रुपये की छपाई करना, उसकी बाजार में सप्लाई करना, रुपये की आपूर्ति से लेकर उसके भाव को कंट्रोल करना आदि भी रिजर्व बैंक का काम है.

इससे भी पढ़े :- एमएस धोनी का आखिरी IPL मैच… भावुक विदाई, चेन्नई की हार से माही का क्रिकेट सफर समाप्त?

RBI Income : रिजर्व बैंक की कमाई के तरीके

रिजर्व बैंक को होने वाली कमाई के जरियों में एक है Seigniorage. यह करेंसी की छपाई से होने वाला मुनाफा है. करेंसी को छापने में रिजर्व बैंक को जितना खर्च आता है, उस करेंसी की वैल्यू उससे काफी ज्यादा होती है. मतलब छपाई की लागत से जितनी ज्यादा वैल्यू हुई, उतना ज्यादा मुनाफा होता है. इसके अलावा आरबीआई विभिन्न कमर्शियल बैंकों को कर्ज देता है. उसके बदले में बैंक आरबीआई को ब्याज का भुगतान करते हैं. रिजर्व बैंक सरकारी बॉन्ड की खरीद-परोख्त से भी कमाई करता है. रिजर्व बैंक के विदेशी मुद्रा भंडार में फॉरेन एसेट शामिल होते हैं, जो कमाई कराते हैं.

RBI Income : यहां से होती है सबसे ज्यादा कमाई

यूनियन बैंक की रिपोर्ट बताती है कि रिजर्व बैंक को ब्याज और फॉरेन एक्सचेंज से मुख्य कमाई होती है. रिपोर्ट के अनुसार, रिजर्व बैंक की बैलेंस शीट में करीब 70 फीसदी हिस्सा फॉरेन करेंसी एसेट का है, जबकि 20 फीसदी हिस्सा सरकारी बॉन्डों के रूप में है. रिपोर्ट में यह अनुमान लगाया गया है कि इन सिक्योरिटीज से रिजर्व बैंक को ब्याज से होने वाली कमाई 1.5 लाख करोड़ रुपये से 1.7 लाख करोड़ रुपये के बीच रह सकती है.

Exit mobile version
Skip to toolbar