Prashant Kishor: जन सुराज का नया संकेत: प्रशांत किशोर के दावे और JDU-RJD की चिंता |

Prashant Kishor

Prashant Kishor: सीटों की कमी और जन सुराज के गठबंधन पर प्रशांत किशोर का बयान |

Prashant Kishor
Prashant Kishor: जन सुराज का नया संकेत: प्रशांत किशोर के दावे और JDU-RJD की चिंता |

Prashant Kishor: प्रशांत किशोर ने जन सुराज पदयात्रा के दौरान बुधवार को (12 जून) पटना के ज्ञान भवन में हजारों जनसमूह को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि जब जन सुराज दल चुनाव लड़ेगा, तो हम या तो अर्श पर मरेंगे या फर्श पर मरेंगे, बीच में लटकने का कोई उपाय नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि जन सुराज की बात अगर घर-घर पहुंच गई, तो इतनी सीटें आएंगी कि कोई गिन पाना मुश्किल होगा।

Prashant Kishor : इस अवसर पर उन्होंने जनता से यह भी अपील की कि वे मतदान करने के लिए अवसर का उपयोग करें और जनता के हित में उनकी भरपूर सहयोग और समर्थन करें। उन्होंने साफ किया कि जन सुराज दल का मुख्य उद्देश्य है जनता की सेवा करना और उनके हित में निर्णय लेना। इसके साथ ही उन्होंने स्थानीय समस्याओं का समाधान करने का संकल्प भी जताया। इस प्रकार, उनकी संबोधना ने जनता को चुनावी प्रक्रिया में सकारात्मक भावना और सहयोग दिखाने के लिए प्रेरित किया।

जन सुराज का किसी से गठबंधन नहीं होगा

Prashant Kishor: प्रशांत किशोर ने बताया कि हाल ही में उनसे एक सज्जन ने पूछा कि यदि सीटें बहुमत नहीं ला सकीं तो वे बिहार में किस पार्टी से गठबंधन करेंगे? उन्होंने उन्हें जवाब देते हुए कहा कि जन सुराज की जो परिकल्पना है, और जब जन सुराज दल चुनाव लड़ेगा, तो हम या तो अर्श पर मरेंगे या फर्श पर मरेंगे। बीच में लटकने का कोई उपाय नहीं है। जन सुराज की बात अगर घर-घर पहुंच गई, तो इतनी सीटें आएगी कि कोई गिन नहीं पाएगा।

उन्होंने यह भी बताया कि जन सुराज के संकल्प को लेकर कोई संदेह नहीं होना चाहिए और लोगों को उस पर पूरा भरोसा होना चाहिए। इस बारे में लोगों को सही जानकारी मिलनी चाहिए कि जन सुराज दल किस नीति पर जा रहा है और उसकी योजनाएं क्या हैं। उन्होंने भी यह आह्वान किया कि लोग मतदान करने के लिए अवसर का सही उपयोग करें और देश के लिए उत्तम चुनावी निर्णय लें।

इससे भी पढ़े :-  NEET परीक्षा जारी रखने और काउंसलिंग पर रोक न लगाने का सुप्रीम कोर्ट का निर्णय, NTA से जवाब तलब

Prashant Kishor: जन सुराज के दल के प्रवक्ता प्रशांत किशोर ने बताया कि बिहार में लोगों के मन में अभी भी कई संदेह हैं, और अगर इन संदेहों को दूर नहीं किया गया तो वे बहुत जल्द ही 10 के नीचे ही सिमट जाएंगे। उन्होंने गठबंधन की भी कोई संभावना नहीं मानी, न चुनाव से पहले और न बाद में। उन्होंने बताया कि इस बार के बिहार विधानसभा चुनाव में जन सुराज दल 243 सीटों पर चुनाव लड़ेगा।

किशोर ने कहा कि जन सुराज के संकल्प का सच्चाई से कोई संदेह नहीं होना चाहिए, और लोगों को इस बारे में पूरा विश्वास होना चाहिए। उन्होंने जनता से यह भी कहा कि यह चुनाव बिहार के भविष्य के लिए महत्वपूर्ण है, इसलिए वे सभी अपना जिम्मेदारी निभाएं और मतदान करें। उन्होंने जनता से अपील की कि वे अपनी शक्ति का सही उपयोग करें और बिहार के विकास में योगदान दें।

जन सुराज को पार्टी बनाएंगे प्रशांत किशोर

Prashant Kishor: 18 महीने की पदयात्रा के बाद, प्रशांत किशोर ने अब जन सुराज पार्टी का गठन करने का एलान किया है। जन सुराज के सूत्रधार प्रशांत किशोर का कहना है कि बिहार की 50 प्रतिशत से ज्यादा आबादी चाहती है कि यहां एक नई पार्टी बने, क्योंकि लोगों को नए विकल्पों की आवश्यकता है। इसका मुख्य कारण है कि जनता पिछले 30 सालों से लालू, नीतीश और बीजेपी सरकारों से परेशान है। लोगों का जीवन में कोई सुधार नहीं हो रहा है, और कमाने के लिए लोग अन्य राज्यों में जा रहे हैं। शिक्षा से लेकर स्वास्थ्य तक क्षेत्रों में भ्रष्टाचार बढ़ रहा है।

इससे भी पढ़े :-  NTA द्वारा सुप्रीम कोर्ट में NEET मामले का जवाब , छात्रों की परीक्षा जून 30 से पहले |

इस दिशा में, प्रशांत किशोर ने नवंबर 2024 में जन सुराज पार्टी का गठन करने का एलान किया है। इस पार्टी का उद्देश्य है बिहार में जनता के हित में परिवर्तन लाना, और भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में भाग लेना। प्रशांत किशोर ने इस पार्टी की सामाजिक और राजनीतिक दिशा को लेकर लोगों से आश्वासन दिया है कि यह एक सशक्त विकल्प होगा जो लोगों के अधिकारों की रक्षा करेगा और उनकी समस्याओं का समाधान करेगा।

इससे भी पढ़े :- GST परिषद की बैठक 22 जून को, चुनावी परिणामों के बाद क्या घटेगा कर भार?

इससे भी पढ़े :-  राज्यसभा उपचुनाव , NDA की 10 में से 9 सीटों पर सुनिश्चित जीत, जानिए कैसे इंडिया गठबंधन को होगा नुकसान


Discover more from DPN

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

One thought on “Prashant Kishor: जन सुराज का नया संकेत: प्रशांत किशोर के दावे और JDU-RJD की चिंता |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com

Discover more from DPN

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading