Site icon DPN

Porsche Accident In Pune: पुणे एक्सिडेंट,रात में अमीर शहजादे ने 48 हजार की पी शराब, जानें घटना के बारे में |

Porsche Accident In Pune: कल्याणी नगर, पुणे: नशे में धुत नाबालिग ने पोर्शे कार से टक्कर मारकर कार एक्सीडेंट में दोनों की मोटरसाइकिलों को भारी नुकसान, घटना हुई।

Porsche Accident In Pune

Porsche Accident In Pune: पुणे के कल्याणी नगर में हुए एक कार एक्सीडेंट में दो लोगों की मौत हो गई है। यह हादसा रविवार (19 मई 2024) की सुबह हुआ। इस घटना के अनुसार, एक नाबालिग जिसे शराब की नशे में धुत देखा गया था, ने अपनी पोर्शे कार से इन दोनों की मोटरसाइकिल को टक्कर मार दी। ये दोनों मौत की दशा में पाए गए।

हादसे का कारण शराब की नशे में धुत नाबालिग की लापरवाही थी। इससे उनकी गाड़ी कार में अचानक बाहर निकली और उन्होंने मोटरसाइकिलों को टक्कर मार दी।

Porsche Accident In Pune: इस हादसे में आईटी कंपनी में काम करने वाले दो लोगों की जानें गई हैं, जो इस त्रासदी में अपने जीवन की बाजी लगा बैठे थे। इस घटना ने उनके परिजनों को बड़ी चोट पहुंचाई है और स्थानीय समुदाय में गहरा शोक बना रहा है।

Porsche Accident In Pune: यहाँ कुछ चौंकाने वाली बात है कि जो नाबालिग शराब के नशे में धुत पोर्शे कार चला रहा था, उसे कुछ घंटों बाद यह शर्त लगाई गई कि वह 15 दिनों तक येरवडा ट्रैफिक पुलिस के साथ काम करेगा और रोड एक्सीडेंट को लेकर एक निबंध लिखेगा। इसके बाद, उसे बाइक चालने का प्रमाण पत्र भी दिया गया।

Porsche Accident In Pune:  यह एक कठिन प्रस्ताव था, लेकिन इसने समाज को एक महत्वपूर्ण संदेश दिया कि ऐसे घटनाओं का जवाबदेहीपूर्वक बदलाव होना चाहिए। इसके अलावा, यह भी दिखाता है कि नाबालिगों को अपनी जिम्मेदारियों के प्रति सही दिशा में अगाध समझ हो सकती है।

web development

यह प्रक्रिया उस युवक के लिए भी एक सजा रही है, जिसने एक संघर्षशील नागरिक के रूप में अपनी सामाजिक जिम्मेदारियों का उत्तरदायित्व सहन किया।

इससे भी पढ़े :- बिहार में BPSC उत्तीर्ण शिक्षकों की नौकरी पर क्या होगा फैसला? शिक्षा विभाग की बड़ी कार्रवाई

जेजे बोर्ड का फैसला सुन देवेन्द्र फडणवीस भी चौंके

Porsche Accident In Pune: इस घटना में महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी विशेष रुचि लेते हैं। उन्होंने नाबालिग के साथ किशोर न्याय बोर्ड द्वारा नरम रुख अपनाने को लेकर हैरानी जताई। फडणवीस ने बताया कि पुलिस ने हाईकोर्ट में किशोर के वयस्क के रूप में मुकदमा चलाने की अनुमति मांगी है।

इस मामले में न्यायिक संस्थानों की सकारात्मक भूमिका का जिक्र करते हुए, उपमुख्यमंत्री ने यह भी दिखाया कि जब तक समाज में विशेष स्थान पर इस तरह के मामलों के लिए कठोर एवं ठोस कानूनी उपाय नहीं होंगे, तब तक इस तरह की घटनाओं का मुकाबला करना मुश्किल है।

Porsche Accident In Pune: फडणवीस ने उपरोक्त मुद्दे को लेकर सक्रिय रूप से काम किया है और इसे सुलझाने के लिए कड़ी मेहनत और समझदारी की जरूरत बताई है। उन्होंने इस घटना को संवेदनशीलता और कड़ी कार्रवाई के लिए एक महत्वपूर्ण मामला बताया है।

नाबालिग पर कार्रवाई न करने पर जनता में फैसा आक्रोश

Porsche Accident In Pune: देवेंद्र फडणवीस का कहना है कि जेजे बोर्ड द्वारा नाबालिग के संबंध में जो आदेश पारित किया गया था, वह बहुत ही चौंकाने वाला था। इस अपराधी मामले के लिए उन्होंने बहुत ही उदार दृष्टिकोण अपनाया। पुणे पुलिस ने इस मामले में बोर्ड में याचिका दायर की थी कि नाबालिग के साथ वयस्क के रूप में व्यवहार करने की अनुमति दी जाए, क्योंकि उसकी उम्र 17 साल 8 महीने है, लेकिन जेजे बोर्ड द्वारा आवेदन को “SEEN and FILED” करके अलग रख दिया गया। इसी कारण से लोगों में इस बात पर आक्रोश फैला है कि यह निर्णय न्याय से विरुद्ध लगा।

Porsche Accident In Pune

दोस्तो संग डिनर करके लौट रहे थे….

Porsche Accident In Pune: कार दुर्घटना के शिकार हुए अनीस अवधिया (24 साल) और अश्विनी कोस्टा (24 साल) अपने दोस्तों के साथ डिनर करके लौट रहे थे। इस बीच, एक तेज रफ्तार से आ रही पोर्शे कार ने उन्हें टक्कर मार दी। मध्य प्रदेश के निवासी अश्विनी कोस्टा अनीस अवधिया की गाड़ी पर पीछे बैठे हुए थे।

Porsche Accident In Pune: इस दुर्घटना में दोनों की मौत हो गई। स्थानीय पुलिस ने घटना स्थल पर जांच शुरू कर दी है। दुर्भाग्यवश, यह घटना एक बेहद दुखद और असाधारण हादसा है जिसने दो परिवारों को अपने करीबी खो दिया है।

इस मामले में सामाजिक जिम्मेदारी को ध्यान में रखते हुए, पुलिस ने शीघ्र कार्रवाई की भी जांच शुरू कर दी है। इसके साथ ही, दोनों के परिवारों को भी सहानुभूति और संवेदना का सहारा दिया जा रहा है।

पिता को देने वाली थी सर्प्राइज

Porsche Accident In Pune: अश्विनी कोस्टा की मां, ममता कोस्टा, ने बताया है कि उनकी बेटी जबलपुर लौटने वाली थी। जून में उसके पिता का जन्मदिन था, और उसने उन्हें सरप्राइज करने के लिए टिकटें भी बुक करवा ली थीं। हादसे के ठीक एक दिन पहले अश्विनी ने अपनी मां को बताया कि वह जबलपुर आ रही है, और उसने 18 जून का टिकट भी बुक कर लिया था।

web development

Porsche Accident In Pune:  ममता कोस्टा ने कहा कि उस दिन सब कुछ खत्म हो गया। ये घटना अत्यंत दुःखद है और परिवार के लिए अत्यधिक कठिनाई भरी है। वह अपनी बेटी के निधन के बाद होने वाली सारी योजनाओं को रद्द करना पड़ा, जो कि उसके पिता के जन्मदिन के लिए थीं। इस दुखद समय में समाज का साथ मिलना बहुत आवश्यक है ताकि परिवार को सहारा मिल सके।

मध्य प्रदेश के पाली का रहने वाला था अनीस 

Porsche Accident In Pune: अनीस अवधिया मध्य प्रदेश के पाली का रहने वाला था और करीब डेढ़ साल से पुणे में काम कर रहा था। अनीस ने पुणे के डीवाई पाटिल कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से पढ़ाई की थी। अनीस के मामा ज्ञानेंद्र सोनी ने बताया कि उसके परिवार में माता पिता के साथ उसका एक छोड़ा भाई है, जो डीवाई पाटिल कॉलेज में पढ़ाई करता है। अनीस के मामा ने बताया कि उसके पिता की छोटी सी प्रिंटिंग प्रेस की दुकान है और उसकी मां हाउसवाइफ है। अनीस के मामा ने बताया कि वह अपने परिवार की आर्थिक रूप से मदद करता था।

Porsche Accident In Pune:  अनीस का परिवार उसके निधन के बाद बेहद दुखी है। उन्होंने अनीस को एक प्रतिभाशाली और समर्पित बेटे के रूप में याद किया है। उनके मामा ने बताया कि वे अपने दोस्तों और परिवार के साथ समय बिताने का बहुत शौकीन थे। उन्होंने एक सच्चे और निष्ठावान इंसान की तरह जीवन जिया।

Porsche Accident In Pune: अनीस की मौत से उनके परिवार को बड़ी हानि हुई है। उनके परिवार का यह दुखद घटना सभी के लिए एक सबक है कि जीवन की कोई भी पल अनमोल होता है और हमें हर क्षण का महत्व समझना चाहिए। अनीस के निधन से हमें यह सिखने को मिलता है कि हमें अपने प्रियजनों के साथ समय बिताना और उनका समर्थन करना चाहिए, क्योंकि जिंदगी का हर पल महत्वपूर्ण होता है।

पब में पी थी शराब

Porsche Accident In Pune: इस मामले में बीते दिनों कुछ सीसीटीवी फुटेज भी सामने आए हैं, जिसमें नाबालिग आरोपी शराब पीता नजर आ रहा है। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक पुणे पुलिस आयुक्त अमितेश कुमार ने यह जानकारी दी थी कि नाबालिग पहले पब cosie गया, जहां उसका 48 हजार का बिल बना था। वे शनिवार को रात 10:40 पर पब पहुंचे। जब पब वालों ने इन्हें शराब परोसना बंद कर दिया तो वह रात करीब 12:00 बजे ब्लैक मैरियट पहुंचे।

Porsche Accident In Pune

Porsche Accident In Pune: पुलिस ने इस मामले में विश्वास की सीसीटीवी फुटेज देखकर बताया है कि नाबालिग के द्वारा जो शराब खरीदा गया था, उसका परीक्षण किया गया है और इसकी रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। इसके साथ ही, ब्लैक मैरियट के पहुंचने के बाद नाबालिग की गाड़ी का भी परीक्षण किया गया है ताकि इस मामले में सच्चाई का पता लग सके।

Porsche Accident In Pune: पुलिस ने बताया है कि इस मामले में शराब का बिल, सीसीटीवी फुटेज, और अन्य सबूतों के आधार पर आरोपी के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। यह मामला बहुत ही संवेदनशील और गंभीर है जिसमें नाबालिग के शराब पीने का आरोप है। इसके बाद भी, पुलिस ने जांच के लिए अभी तक सभी आधिकारिक तरीकों का उपयोग किया है ताकि मामले की सच्चाई सामने आ सके।

मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 185 के तहत मामला दर्ज

Porsche Accident In Pune: पुलिस आयुक्त ने बताया कि उन्हें पब से 48 हजार का बिल मिला, जो कि नाबालिग द्वारा पे किया गया था। इस मामले में वे और उनकी टीम काफी गंभीरता से काम कर रही हैं। पुलिस ने बताया कि उनके पास नाबालिग और उसके कुछ दोस्तों के शराब पीते हुए सीसीटीवी फुटेज भी है और अब उनके ब्लड सैंपल रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।

Porsche Accident In Pune: पुलिस ने जानकारी दी कि शनिवार को रात 10:40 बजे नाबालिग पब पहुंचे थे, जहां उन्हें शराब परोसी गई थी, लेकिन जब पब वालों ने शराब सर्व करना बंद कर दिया, तो उन्होंने ब्लैक मैरियट को अवांछित ढंग से बुलाया। मामले को गंभीरता से लेकर पुलिस ने मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 185 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

web development

यह मामला न केवल नाबालिग द्वारा शराब पीने के आरोप में है, बल्कि इसमें उसके कुछ दोस्तों का भी सहयोग और सहायता मामूली नहीं है। अब पुलिस ने जांच शुरू कर दी है और मामले के सभी पहलुओं की सूचना और सबूतों को ध्यान से देखा जा रहा है। आगे की कार्रवाई के लिए समर्थन और सहायता उपलब्ध कराया जाएगा।

यह हत्या है, कोई हादसा नहीं – अनीस के परिजन

Porsche Accident In Pune:  हादसे में मध्य प्रदेश के रहने वाले युवक अनीस और युवती अश्विनी के घर वालों ने गंभीर सवाल खड़े किए हैं। उनका कहना है कि नाबालिग आरोपी की जमानत को रद्द किया जाए। वहीं मृतक अनीश के परिजनों का कहना है कि नाबालिग ने शराब पी रखी थी और वह तेज रफ्तार से गाड़ी चला रहा था। उसके पास ड्राइविंग लाइसेंस भी नहीं था, इसलिए यह हत्या है, कोई हादसा नहीं।

इस मामले में परिवारों का कहना है कि नाबालिग को जमानत नहीं मिलनी चाहिए, क्योंकि उसने न केवल शराब पी हुई थी बल्कि वह गाड़ी को भी अवधि से बहुत अधिक तेज चला रहा था। उसके पास ड्राइविंग लाइसेंस नहीं था, जो कि एक जिम्मेदार नागरिक के रूप में आवश्यक होता है। इसके अतिरिक्त, उसने खुद को और अपने चालक दोस्तों को खतरे में डाल दिया।

Porsche Accident In Pune

Porsche Accident In Pune: नाबालिग की गाड़ी द्वारा हादसे में मृत्यु होने से परिवार को अचंभा और दुख बाहरा रहा है। उन्हें न्याय और सही फैसला चाहिए ताकि वे इस दुखद घटना के लिए ज़िम्मेदार माना जा सके। यह मामला सोसायटी में जागरूकता बढ़ाने के लिए भी एक संदेश है कि नाबालिग या किसी भी व्यक्ति को अपनी ज़िम्मेदारी का आदान-प्रदान समय पर करना बहुत महत्वपूर्ण है।

 

इससे भी पढ़े :- लोकसभा चुनाव 2024,वेस्ट बंगाल में सियासी उत्तेजना! BJP उम्मीदवार हिरण्मय चटर्जी के साथ पुलिस की रेड 3 दिन पहले चुनाव से |

Exit mobile version
Skip to toolbar