PM Modi Speech: PM मोदी का 133 मिनट का भाषण , परजीवी, बालक बुद्धि जैसे शब्दों की गूंज |

PM Modi Speech

PM Modi Speech: पीएम मोदी ने सरकार के विजन के साथ किया भाषण का आगाज़, बताया तीसरी बार तिगुनी रफ्तार से विकास का खाका |

PM Modi Speech: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार (2 जुलाई) को लोकसभा में जोरदार भाषण दिया। अपने भाषण में उन्होंने कांग्रेस पर कड़ा प्रहार किया और नेता प्रतिपक्ष राहुल गांधी को निशाने पर लिया। हालांकि, उनके भाषण से कुछ महत्वपूर्ण मुद्दे गायब रहे, जिनमें नीट पेपर लीक का मामला भी शामिल था। प्रधानमंत्री मोदी ने संसद में 133 मिनट तक बोला, जबकि नेता प्रतिपक्ष राहुल गांधी ने एक दिन पहले यानी सोमवार (1 जुलाई) को 100 मिनट तक सदन में अपनी बात रखी थी।

PM Modi Speech
PM Modi Speech: पीएम मोदी ने सरकार के विजन के साथ किया भाषण का आगाज़, बताया तीसरी बार तिगुनी रफ्तार से विकास का खाका |

PM Modi Speech: मोदी के भाषण का मुख्य उद्देश्य सरकार की नीतियों और उपलब्धियों को जनता के सामने रखना था, जबकि राहुल गांधी ने अपनी बातों में सरकार की विफलताओं को उजागर करने की कोशिश की। दोनों नेताओं के लंबे भाषणों ने संसद में गहन चर्चा और बहस का माहौल बनाया। प्रधानमंत्री मोदी का भाषण न केवल उनके समर्थकों के बीच चर्चा का विषय बना, बल्कि विपक्ष ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी। वहीं, नीट पेपर लीक जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की कमी ने कई लोगों को निराश किया। प्रधानमंत्री का यह भाषण लंबे समय तक याद रखा जाएगा, खासकर उनके तीखे और प्रभावशाली वक्तव्यों के लिए।

PM Modi Speech: प्रधानमंत्री मोदी के भाषण का विश्लेषण बताता है कि उन्होंने अपने भाषण में 61 बार ‘विकास’ और ‘विकसित’ शब्द का प्रयोग किया। उन्होंने 15 बार पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू और 12 बार इंदिरा गांधी का उल्लेख भी किया। देश में वर्तमान में सबसे मुद्दा है नीट पर करता है। फिर भी पीएम ने केवल एक बार नीट शब्द का उपयोग किया। राष्ट्रपति के भाषण के पश्चात पीएम ने उन्हें धन्यवाद दिया, जबकि वे विपक्ष के लिए परजीवी और राहुल गांधी के लिए ‘बालक बुद्धि’ जैसे शब्द का उपयोग करते हुए उनकी वाहवाही की।

कांग्रेस परजीवी बन चुकी है: पीएम मोदी

PM Modi Speech: प्रधानमंत्री के भाषण का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा उस समय था, जब उन्होंने कांग्रेस को ‘परजीवी’ बताया। पीएम मोदी ने कहा, “13 राज्यों में कांग्रेस को जीरो सीट मिली है, लेकिन वे खुद को हीरो मान रहे हैं। मैं कांग्रेस के लोगों से कहूंगा कि झूठी जीत के जश्न में जनता के जनादेश की अनदेखी न करें। अब कांग्रेस 2024 से परजीवी पार्टी बन गई है, जिसका मतलब है कि वह अपने सहयोगी पर निर्भर रहती है और उसे ही खा जाती है। कांग्रेस उस पार्टी का वोट खा जाती है जिसके साथ वह गठबंधन करती है।” उन्होंने कहा कि कांग्रेस अब एक ऐसी पार्टी बन गई है जो अपने सहयोगियों पर निर्भर करती है और उनकी वोट बैंक है।

PM Modi Speech:  प्रधानमंत्री ने कहा, “जहां कांग्रेस और बीजेपी में सीधी टक्कर थी, वहां कांग्रेस का स्ट्राइक रेट सिर्फ 26 फीसदी है। मगर जहां वे गठबंधन में थे, वहां उनका स्ट्राइक रेट 50 फीसदी था। कांग्रेस की 99 सीटों में से अधिकांश सीटें उसे सहयोगियों के प्रयासों से मिलीं। गुजरात, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस अपने दम पर लड़ी, यहां 64 सीटों में से वे केवल 2 सीटें जीत पाई। इसका मतलब है कि कांग्रेस परजीवी हो गई है। अगर कांग्रेस ने अपने सहयोगियों के वोट न खाए होते तो वह इतनी सीटें भी नहीं जीत पाती।”

PM Modi Speech: उन्होंने यह भी बताया कि कांग्रेस अब ऐसी पार्टी बन गई है जो अपने सहयोगियों पर निर्भर करती है और उनकी वोट बैंक है। उन्होंने उदाहरण दिया कि गुजरात, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के लिए वोट विभाजन के कारण जीतने की क्षमता कमजोर पड़ी है। इससे स्पष्ट होता है कि वर्तमान में कांग्रेस को स्थिरता की जरूरत है और वह अपने वोटर बेस को संघटित रखने के लिए सक्रिय रहने की आवश्यकता है।

इससे भी पढ़े :-


Discover more from DPN

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com

Discover more from DPN

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading

भारत में नया कानून लागू जानिए 10 मुख्य पॉइंट्स, जिनमें हुआ बदलाव ! why do couples lie social-worker-sudha-murti Hathras Stampede: A Tragic Event Shakes the Nation