NSE World Record: NSE ने इतिहास रचा: 6 घंटे में 1971 करोड़ का लेनदेन, बनाया विश्व रिकॉर्ड |

NSE World Record

NSE World Record: लोकसभा चुनाव के नतीजों से लगे सदमे से उबरने के बाद आज, यानी 5 जून 2024, भारत के सबसे बड़े स्टॉक एक्सचेंज, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE), ने सबसे ज्यादा ट्रांजैक्शन्स का वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया। आज एक्सचेंज ने इतिहास दर्ज किया है, जब उन्होंने 1,971 करोड़ ऑर्डर और 28.55 करोड़ ट्रेड संभाले।

NSE World Record
NSE World Record

Today Breaking News नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी (CEO) आशीषकुमार चौहान ने बुधवार को कहा कि शेयर बाजार ने एक ही दिन में 1,971 करोड़ लेनदेन करके विश्व रिकॉर्ड बनाया है। चौहान ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर लिखा है, ‘‘ एनएसई ने आज पांच जून, 2024 को एक ही दिन में अबतक का सबसे अधिक लेनदेन संभाला। यह विश्व रिकॉर्ड है। बाजार ने कारोबार के दौरान छह घंटे और 15 मिनट (सुबह 9.15 बजे से अपराह्न 3.30 बजे तक) के दौरान 1,971 करोड़ ऑर्डर संभाले।’’

Today Breaking News चुनाव नतीजों के झटके से उबरते हुए स्थानीय शेयर बाजारों ने बुधवार को जोरदार वापसी की और बीएसई सेंसेक्स 2,300 अंक से अधिक की छलांग लगा गया। एनएसई निफ्टी भी 735 अंक के लाभ में रहा। तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 2,303.19 अंक यानी 3.20 प्रतिशत की बढ़त के साथ 74,382.24 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 735.85 अंक यानी 3.36 प्रतिशत उछलकर 22,620.35 अंक पर बंद हुआ।

NSE World Record:  भाजपी की अगुवाई वाले राजग ने 543 सदस्यीय लोकसभा में 272 के बहुमत के आंकड़े को पार कर लिया है। लेकिन भाजपा 2014 के बाद पहली बार बहुमत के आंकड़े से पीछे रह गई है और सरकार गठन के लिए उसे अपने सहयोगियों पर निर्भर रहना होगा। चुनाव आयोग ने सभी 543 लोकसभा क्षेत्रों के नतीजे घोषित कर दिये हैं। इसमें भाजपा को 240 और कांग्रेस को 99 सीटों पर जीत मिली है।

इससे भी पढ़े :-  चुनावी नतीजों के बाद बाजार ने दिखाई संभाल, सेंसेक्स 73 हजार के पार|

रिकॉर्ड लेनदेन

Today Breaking News NSE के कैश सेगमेंट में 1.87 लाख करोड़ रुपये का कारोबार हुआ जबकि डेरिवेटिव में 611 लाख करोड़ रुपये का हुआ। एक दिन पहले एक्सचेंज ने 2.7 लाख करोड़ रुपये का नकद में कारोबार और 415 लाख करोड़ रुपये का डेरिवेटिव कारोबार दर्ज किया था।

 Latest News एनएसई इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ, आशिष कुमार ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर खुशखबरी साझा की। उन्होंने लिखा, ‘@nseindia ने आज 5 जून, 2024 को एक ही दिन में अब तक का सबसे ज्यादा ट्रांजैक्शन्स संभालकर विश्व रिकॉर्ड बना दिया। इन ट्रांजैक्शन्स की संख्या 6 घंटे और 15 मिनट के बीच हुई। सुबह 9:15 बजे से शाम 3:30 बजे तक NSE खुली रही, इस समय के दौरान एक्सचेंज ने सिंगल ट्रेडिंग डे में 1,971 करोड़ (19.71 बिलियन) ऑर्डर और 28.55 करोड़ (280.55 मिलियन) ट्रेड हैंडल किए।’

web Service
web Service

NSE World Record:  इस संदेश से स्पष्ट होता है कि एनएसई इंडिया ने एक दिन में सबसे अधिक कारोबार किया है, जो कि एक बड़ी उपलब्धि है। यह विशेषकर उनके लिए गर्व की बात है जिन्होंने इस महत्वपूर्ण मील का पार किया है। डेरिवेटिव्स और कैश सेगमेंट में कारोबार के बढ़ते आंकड़े भी इसका खुलासा करते हैं, जिससे पता चलता है कि वित्तीय बाजार में एनएसई का प्रभाव बढ़ता जा रहा है।

इस खबर ने उत्साह बढ़ा दिया है और बाजार में नए उत्साह का माहौल बना दिया है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, यह उत्साही माहौल बाजार में अधिक गतिशीलता और कारोबार की बढ़ती गति की ओर संकेत कर रहा है। अब देखना बाकी है कि इस उत्साह से आगे कैसे बढ़ते हैं और वित्तीय बाजार में कैसे प्रतिसाद मिलता है।

हरे निशान में बंद हुआ Nifty

NSE World Record: शेयर बाजारों में 4 जून को लोकसभा चुनाव के दिन बड़ी गिरावट आई थी। निफ्टी (Nifty) ने 1,379 अंक या 6 फीसदी की नुकसान के साथ 21,885 पर बंद हो गया था, जो कि 20 मार्च से नीचे था। लेकिन नेता महागठबंधन को बहुमत मिलने के बाद बाजार में फिर से उत्साह आया और आज Nifty50 ने 735.85 अंक या 3.36% की बढ़त के साथ 22,620.35 के स्तर पर बंद हो गया है।

NSE World Record: इस बाजारी तेजी में नेतृत्व शेयरों में एक जोरदार बढ़ती है। निवेशकों की उम्मीदें बहुत ज्यादा हैं और वे बाजार के तेज गति से खुश हैं। नेता ने विजय प्राप्त किया है और इससे बाजार में स्थिरता आई है।निफ्टी इंडेक्स में यह वृद्धि बाजार में बहुत बड़ा संकेत है। यह दिखाता है कि निवेशक अब भी बाजार में बहुत ज्यादा आत्मविश्वास रखते हैं और वे अब भी बाजार में निवेश करने के लिए तैयार हैं। निफ्टी के इस उछाल के साथ ही बाजार में एक नया माहौल बन गया है और निवेशकों की उम्मीदों में भी एक नई ऊर्जा आई है।

इससे भी पढ़े :- बाजार में तेजी का माहौल, सत्र प्रारंभ से पहले गिफ्ट निफ्टी में 650 अंकों की बढ़त |

10 जून से लागू होने वाला है टिक साइज का नया नियम

NSE World Record: आखिरी महीने, 27 मई को, NSE ने अपनी ट्रेडिंग प्राइस से नीचे गिरने वाले सभी शेयरों के लिए टिक साइज को 5 पैसे से 1 पैसे करने का निर्णय लिया। स्टॉक ब्रोकरों ने इस फैसले का स्वागत किया और उन्होंने कहा कि यह नकदी और प्राइस डिस्कवरी में इजाफा करेगा। इससे लागत कम होगी और ट्रेडिंग वॉल्यूम में वृद्धि होगी।

यह नियम 10 जून से प्रभावी होगा और टिक साइज का मतलब यह होता है कि किसी शेयर की कीमत में संभावित न्यूनतम बदलाव की निर्धारित मात्रा होती है। इससे शेयर की कीमतों में सुधार होगा और निवेशकों को न्यूनतम बदलाव तक ध्यान देने की अवधि बढ़ेगी।इस नियम का लागू होना स्टॉक मार्केट में नया एक उदाहरण है, जो निवेशकों को और ब्रोकरों को भी लाभ प्रदान करेगा। इससे ट्रेडिंग की सुविधा बढ़ेगी और बाजार में निवेश करने के प्रति रुचि भी बढ़ेगी।

Q4FY24 में शानदार रही NSE की तिमाही परफॉर्मेंस

NSE World Record: NSE की वित्त वर्ष 24 की जनवरी-मार्च तिमाही (Q4FY24) में शानदार प्रदर्शन देखने को मिला। इस तिमाही में सालाना आधार पर नेट मुनाफे (consolidated net profit) में 20 फीसदी की वृद्धि होकर 2,488 करोड़ रुपये तक पहुंचा। NSE के रेवेन्यू में भी 34 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई। Q4FY4 में इसका रेवेन्यू 4,625 करोड़ रुपये रहा।

NSE World Record
NSE World Record

NSE World Record: इस अद्भुत प्रदर्शन से एनएसई के व्यापारिक संदर्भ में महत्वपूर्ण वृद्धि की साख देखी गई है। वित्त वर्ष 24 में इसके नेट मुनाफे में बहुत अच्छा इजाफा हुआ है, जो कि संदर्भ में एक प्रेरणास्त्रोत हो सकता है। इसे इस तिमाही के लिए एक बहुत ही सफल अवधारणा माना जा सकता है।

यह निर्धारित करता है कि NSE की वित्तीय स्थिति में सुधार हो रहा है और वह अपने व्यवसाय में मजबूती के बदलाव ला रही है। इस प्रदर्शन से देखा जा सकता है कि बाजार में एनएसई का विश्वास मजबूत है और उसकी क्षमता को माना जा रहा है कि वह आने वाले वर्षों में भी अच्छे प्रदर्शन के साथ आगे बढ़ेगा।

 

इससे भी पढ़े :-SEBI का नया नियम , कर्मचारियों और सलाहकारों पर बढ़ाई गई सख्ती, भ्रष्टाचारी अवस्थाओं का किया जाएगा सामना |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *